Monday, Nov 19, 2018
HomeNewsटीपू सुल्तान की जयंती मानाने पर भाजपा नेता हेगड़े ने दिया बड़ा आरोप

टीपू सुल्तान की जयंती मानाने पर भाजपा नेता हेगड़े ने दिया बड़ा आरोप

tipu sultan anat kumar hegde

कर्नाटक सरकार ने 10 नवंबर को टीपू सुल्तान की जयंती मनाने का फैसला लिया है जिसको लेकर सभी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी है। ऐसे में विपक्षी पार्टी भारतीय जनता पार्टी ने इसका कड़ा विरोध भी किया है।

भाजपा के विरोध के बावजूद मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने साफ किया है कि इस कार्यक्रम को रद्द नहीं करेंगे और जैसा प्रस्तावित है वैसे इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। भारतीय जनता पार्टी टीपू सुल्तान का जन्म दिवस जयंती मनाने का प्रस्ताव का शुरू से ही विरोध कर रही है। इसका प्रस्ताव कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने रखा था।

इसको लेकर भारतीय जनता पार्टी के सांसद अनंत कुमार हेगडे ने एक कदम और बढ़ा दिया है। उन्होंने कर्नाटक के मुख्या सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि उन्हें इस आयोजन का निमंत्रण ना भेजा जाए।

दरअसल अनंत कुमार हेगडे के ओएसडी ने एक खत के मुख्य सचिव को लिखते हुए कहा कि इससे पहले भी 10 नवंबर को टीपू जयंती मनाने के फैसले पर विरोध प्रदर्शन हुआ था। इसको लेकर कई जगह पर हिंसक घटनाएं भी हुई थी। सबको पता है कि टीपू सुल्तान कन्नड और हिंदू विरोधी थे, इसके बावजूद सरकार उनका महिमामंडन करना चाहती है। हम इस फैसले की निंदा करते हैं आपसे आग्रह किया जाता है कि मेहमानों की सूची में मेरा नाम ना डाला जाए और ना ही मुझे इसका निमंत्रण भेजा जाए।

खबरों के अनुसार टीपू जयंती का विरोध होराता समिति करती आई है उसका कहना है कि सरकार की टीपू जयंती मनाती है तो इस समिति के लोग विरोध प्रदर्शन करेंगे।

इससे पहले साल 2015 में टीपू जयंती मनाने का ऐलान हुआ था जिसके बाद विश्व हिंदू परिषद और अन्य हिंदूवादी संगठनों ने इसके खिलाफ प्रदर्शन किए थे जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई थी।

पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने अपनी किताब में तो टीपू सुल्तान को रोकेट युद्ध का हीरो बताया था। यही नहीं मौजूदा राष्ट्रपति कोविंद ने भी अपने कर्नाटक दौरे के दौरान विधानसभा में कहा था कि टीपू सुल्तान नायक थे और उनकी काफी प्रशंसा भी की थी।

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT