Saturday, Jan 19, 2019
HomeNewsमहिला पत्रकार पर दिए बयान पर पत्रकारों ने खोला राहुल गाँधी के खिलाफ मोर्चा, की यह मांग

महिला पत्रकार पर दिए बयान पर पत्रकारों ने खोला राहुल गाँधी के खिलाफ मोर्चा, की यह मांग

rahul gandhi, bjp mukht bharat, भाजपा मुक्त भारत

साल 2019 के पहले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक महिला पत्रकार को इंटरव्यू दिया था जिस पर राहुल गांधी ने टिप्पणी की थी। अब राहुल गांधी से पत्रकार और पत्रकारों के संगठन नाराज हैं और उनसे माफी मांगने की बात कह रहे हैं।

आपको बता दें कि एएनआई की एडिटर स्मिता प्रकाश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू लिया था जो 1 जनवरी को विभिन्न चैनलों पर दिखाया गया। इसके बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राहुल गांधी ने इंटरव्यू के बारे में कहा कि उनके (पीएम मोदी) के अंदर इतना सामर्थ नहीं था कि वह यहां आकर बैठे हैं और लोगों के सवालों का जवाब दें। मैं यहां मौजूद हूं और आपके सवालों का जवाब देता हूं।

उन्होंने कहा कि कल आपने पीएम का इंटरव्यू देखा होगा उन्होंने इसके लिए लचीला शब्द का इस्तेमाल करते हुए कहा कि सवाल पूछने वाली पत्रकार खुद ही जवाब दे रही थी।

इसके बाद दो पत्रकार संगठनों को उनकी यह टिप्पणी की अच्छी नहीं लगी और अब संगठन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की आलोचना कर रहे हैं।

दिल्ली जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन कहा कि राहुल गांधी द्वारा इस्तेमाल किया गया शब्द लचीला पर उन्हें कोई आश्चर्य नहीं है। डीजेए के संयुक्त बयान में अध्यक्ष मनोहर सिंह और महासचिव प्रमोद कुमार ने कहा कि एक पत्रकार के साथ सिर्फ इसलिए बुरा बर्ताव किया जाना क्योंकि उसने आपके प्रतिद्वंदी पार्टी के नेता का इंटरव्यू लिया है बिल्कुल गलत है और इसे दबाने जैसा माना जाता है।

इसके बाद भारतीय जनता पार्टी के अमित मालवीय ने राहुल गांधी के इंटरव्यू की क्लिप जारी की जिसमें कहा कि डियर राहुल गांधी, मैं आपको दिखाऊं की लचीला का मतलब क्या होता है। इंजॉय करिए।

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT