Monday, Nov 19, 2018
HomeNews#MeToo: एमजे अकबर पर लगाया एक और शर्मनाक आरोप, आपबीती सुन आंखो में आ जाएंगे आंसू

#MeToo: एमजे अकबर पर लगाया एक और शर्मनाक आरोप, आपबीती सुन आंखो में आ जाएंगे आंसू

mj akbar in serious charges

देश में इस समय #MeToo कैंपेन को लेकर काफी चर्चाए हो रही है। अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा नाना पाटेकर पर आरोप के करीब दर्जन भर महिलाओ ने सामने आकर केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर आरोप लगाए है। इसके चलते एमजे अकबर को केंद्रीय मंत्री का पद छोड़ना पड़ा। हालांकि एमजे अकबर के लिए परेशानिया यही ख़त्म नहीं हुई बल्कि अब एक और महिला पत्रकार ने सामने आकर एमजे अकबर पर उनका कथित तौर पर रेप करने का आरोप लगाया है।

दरअसल आरोप लगाने वाली भारतीय मूल की महिला पत्रकार पल्लवी गोगोई नेशनल पब्लिक रेडियो (NPR) में चीफ बिजनेस रिपोर्टर हैं जिन्होंने अमेरिकी अखबार वॉशिगटन पोस्ट में एक कॉलम में अपनी आपबीती सुनाई है। पीड़ित महिला पत्रकार ने 23 वर्ष पहले अपने साथ हुई कथित घटना को याद करते हुए बताया कि जब एमजे अकबर ‘एशियन एज’ में संपादक थे तब वह भी वही काम करती थी और उसी दौरान एमजे अकबर ने उनके साथ कथित तौर पर बदसलूकी की।

पीड़ित महिला पत्रकार ने लेख में पूरी आपबीती विस्तार में बताई है। उन्होंने बताया कि 1994 में एमजे अकबर ने कथित तौर पर उनका यौन शोषण किया। उन्होंने बताया कि उस समय एमजे अकबर एक उच्चकोटि के पत्रकार थे और उनके साथ काम करना बहुत बड़ी बात थी। हालांकि महिला ने यह भी बताया कि उन्होंने अपने पद का दुरूपयोग कर उनके साथ गलत हरकत की। महिला ने बताया कि जब वह 22 वर्ष की थी तब उन्होंने नौकरी शुरू की और ऐसा कोई दिन नहीं जाता था जब उनपर अकबर चिल्लाते न हो। हालाँकि वह यह सोचकर इसको नज़रंदाज़ कर देती थी कि वह एक बड़े पत्रकार के साथ काम कर रही है और उनसे सीखने के दौरान अगर गलिया सुनने को मिल रही है तो इसपर ध्यान नहीं देना चाहिए। महिला पत्रकार ने बताया कि 23 साल की उम्र में उन्हें अखबार में ओपियनन पेज का एडिटर बना दिया गया।

पीड़ित ने आगे बताया कि बताया कि जब वह एक ओप-एड पेज तैयार कर अकबर को दिखाने ले गईं तो उन्होंने तारीफ की और वह उन्हें किस करने लगे। पत्रकार ने बताया कि इसको वह झेल न सकी और अकबर के केबिन से शर्मिंदगी और दर्द की स्थिति में बाहर निकल गईं। एक और घटना का ज़िक्र करते हुए महिला पत्रकार ने बताया कि उन्हें एक मैगजीन की लॉन्चिंग में मदद के लिए बॉम्बे (मुंबई) बुलाया गया था और इस दौरान अकबर ने उन्हें फैंसी ताज होटल के कमरे में बुलाया। यहां भी अकबर ने उन्हें किस करने की कोशिश की वह उन्हें धक्का देकर रोते हुए बाहर आ गई। वह बताती है कि अकबर ने उन्हें नौकरी से निकाने की धमकी भी दी लेकिन वह नौकरी नहीं छोड़ना चाहती थी और उन्होंने नौकरी नहीं छोड़ी।

पीड़ित पत्रकार ने एक और घटना का ज़िक्र करते हुए बताया कि एक स्टोरी के लिए वह दिल्ली से दूर जयपुर गई जहां असाइनमेंट ख़त्म होना था। उस दौरान अकबर ने उनसे कहा कि वह जयपुर में उनके होटल में आकर स्टोरी डिस्कस करे। महिला ने बताया कि वह जब कमरे में गई तो इस बार अकबर ने उनको कस के पकड़ लिया और उन्होंने कुछ देर खुद को छुड़ाने की कोशिश की लेकिन इस बार अकबर ने अपनी पकड़ मज़बूत बनाई हुई और उन्होंने कुछ देर संघर्ष किया लेकिन अकबर ज्यादा ताकतवर थे और कुछ देर बाद उन्होंने संघर्ष करना छोड़ दिया और इसी दौरान अकबर ने कथित तौर पर उनके कपड़े फाड़े और उनके साथ दुष्कर्म किया। महिला पत्रकार ने बताया कि वह पुलिस में इसलिए शिकायत नहीं कर सकी क्योकि वह शर्म में डूबी हुई थी। उन्होंने बताया कि इस घटना के बारे में उन्होंने किसी को नहीं बताया था।

पीड़ित पत्रकार ने इसके बाद लंदन की एक घटना का भी ज़िक्र किया और उन्होंने आगे बताया कि इसी के बाद उन्होंने अकबर की नौकरी छोड़ दी और वह अमेरिका में बस गयी जहां उन्हें न्यूज़ यॉर्क के डॉव जोन्स मेंनाईट शिफ्ट वाली नौकरी मिल गई। वह बताती है उन्होंने इस बारे इसलिए लिखा ताकि वह उन महिलाओं का समर्थन कर सके जिन्होंने अकबर के खिलाफ आवाज़ उठाने की हिम्मत दिखाई है। वही वाशिंगटन पोस्ट के एडिटर ने अपने नोट में लिखा कि जब इन आरोपों के बारे में एमजे अकबर के वकील से उन्होंने सवाल किया तो उन्होंने कहा कि उनके क्लाइंट (अकबर) ने बताया है कि ये [घटनाएं और आरोप] झूठे हैं और स्पष्ट रूप से इनका इनकार हैं।’

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT