Monday, Nov 19, 2018
HomeNewsजनता को सीजेआई ने दिया तोहफा, सुप्रीम कोर्ट को अब अंदर से देख सकते बस करना होगा यह काम

जनता को सीजेआई ने दिया तोहफा, सुप्रीम कोर्ट को अब अंदर से देख सकते बस करना होगा यह काम

supreme court of india cji gogoi inside of supreme court

सुप्रीम कोर्ट को अबतक लोग खाली बाहर से एक ऐसी ईमारत के रूप में देखते थे जहां देश के विभिन्न गंभीर मामलो पर फैसला होता है। लोगो को सुप्रीम कोर्ट में जाने की इजाज़त नहीं थी। हालांकि अब मौजूदा चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने एक अहम फैसला लेते हुए आम जनता के लिए सुप्रीम कोर्ट ने अपने दरवाजे खोल दिए हैं। अब आम लोग हर शनिवार सुप्रीम कोर्ट घूम सकेंगे।

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को सीजआई रंजन गोगोई ने ‘गाईडेड टूर प्रोग्राम’ की लॉन्चिंग पर इसके लिए साथी जजों से माफ़ी भी मांगी। सीजेआई ने बताया कि यह एक प्रयोग है, सुप्रीम कोर्ट जैसी संस्था को इसके तहत आम लोगो के लिए खोला गया है, जबकि पहले तक एक ख़ास वर्ग ही वहां पहुच पाता था।

रिपोर्ट के अनुसार वही सीजेआई ने यह फैसला खुद ही लिया जिसके लिए उन्होंने किसी भी साथी जज से राय नहीं ली। सीजेआई ने माफ़ी मांगते हुए कहा कि मैं साथी जजों से मादी चाहता हू, क्योकि मैंने आप लोगो की इस सुविधा (आम जनता के लिए शीर्ष अदालत को खोलना) शुरू करने के लिए इजाज़त नहीं ली। ऐसे में मैं अब आप सभी से इसके लिए मंज़ूरी चाहूँगा। यह फैसला पूरी तरह से मेरा ही था। मैं आप में से किसी से भी इस संबंध में सलाह-मशवरा नहीं किया। मैं इसके लिए मादी चाहता हू। पर मुझे उम्मीद है कि आप लोग मुझे माफ कर देंगे।

आपको बता दें कि यह योजना शनिवार से शुरू हो जाएगी। इसके लिए लोगो को ऑनलाइन एडवांस बुकिंग करानी होगी। सुप्रीम कोर्ट घूमने के लिए कोई फीस नहीं होगी। सुप्रीम कोर्ट में सवेरे 10 बजे से 11.30 बजे तक का गाइडेड टूर होगा, इस दौरान लोग सुप्रीम कोर्ट की ऐतिहासिक महत्व वाली सरंचना और कोर्ट रूम के साथ जज लाइब्रेरी देख सकेंगे। यहां लोगो को एजुकेशलन फिल्म भी दिखाई जाएगी। वही सुप्रीम कोर्ट में एक बार में 20-20 लोगों का ट्रिप होगा और यहां फ़ोटोग्राफी की इजाजत नहीं होगी।

NO COMMENTS

LEAVE A COMMENT